नई जलपाईगुड़ी-ढाका 'मिताली एक्सप्रेस' को भारत और बांग्लादेश के रेल मंत्रियों ने झंडी दिखाकर रवाना किया

राष्ट्रीय

केंद्रीय रेल मंत्री और उनके बांग्लादेशी समकक्ष के द्वारा भारत-बांग्लादेश 'मिताली एक्सप्रेस ट्रेन' को वर्चुअल रूप से नई दिल्ली से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।

ट्रेन भारत के न्यू जलपाईगुड़ी से रवाना होगी और 11 घंटे के अंतराल में 595 किलोमीटर की दूरी तय करके ढाका छावनी स्टेशन पर पहुंचेगी। 

लोगों के बीच बढ़ते हुए संपर्क के आधार पर भविष्य में ट्रेनों की संख्या बढाई जाएगी। यह पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशन (NJP) से पहली भारत-बांग्लादेश ट्रेन सेवा है।

मार्च 2021 में, भारत और बांग्लादेश के प्रधानमंत्रियों द्वारा एक्सप्रेस ट्रेन का वर्चुअल रूप से उद्घाटन किया गया था। नई ट्रेन का उद्घाटन दो पड़ोसी देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापारिक संबंधों और सामाजिक-आर्थिक गतिविधियों को मजबूत करने में मील का पत्थर साबित होगी।

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ट्रेन को हल्दीबाड़ी स्टेशन पर ले जाएगा और जीरो लाइन पर बांग्लादेश को सौंप देगा।

यह ट्रेन बांग्लादेश को उत्तर बंगाल और भारत के पूर्वोत्तर क्षेत्र से जोड़ेगी। यह ट्रेन बांग्लादेशी नागरिकों को रेल द्वारा भारत के रास्ते नेपाल जाने के लिए एक अतिरिक्त सुविधा भी प्रदान करेगी। वर्तमान में, ट्रेन चार वातानुकूलित केबिन कोच और चार वातानुकूलित चेयर कारों के साथ चलेगी और एक डीजल लोकोमोटिव द्वारा संचालित की जाएगी।

अन्य ट्रेनें - मैत्री और बंधन एक्सप्रेस - कोलकाता को बांग्लादेश के ढाका और खुलना से जोड़ती हैं।

 

   परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण बिंदु:

  • केंद्रीय रेल मंत्री और उनके बांग्लादेशी समकक्ष के द्वारा भारत-बांग्लादेश 'मिताली एक्सप्रेस ट्रेन' को वर्चुअल रूप से नई दिल्ली से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।
  • ट्रेन भारत के न्यू जलपाईगुड़ी से रवाना होगी और 11 घंटे के अंतराल में 595 किलोमीटर की दूरी तय करके ढाका छावनी स्टेशन पर पहुंचेगी।
  • यह पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी स्टेशन (NJP) से पहली भारत-बांग्लादेश ट्रेन सेवा है।
  • नई ट्रेन का उद्घाटन दो पड़ोसी देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापारिक संबंधों और सामाजिक-आर्थिक गतिविधियों को मजबूत करने में मील का पत्थर साबित होगी।
  • अन्य ट्रेनें - मैत्री और बंधन एक्सप्रेस - कोलकाता को बांग्लादेश के ढाका और खुलना से जोड़ती हैं।

   जानने योग्य तथ्य:

  • केंद्रीय रेल मंत्री: श्री अश्विनी वैष्णव
  • बांग्लादेश की प्रधान मंत्री: सुश्री शेख हसीना
  • बांग्लादेश के राष्ट्रपति: श्री अब्दुल हामिद
  • बांग्लादेश की मुद्रा: बांग्लादेशी टका

Related Current Affairs

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses