WHO ने विश्व तंबाकू निषेध दिवस (WNTD) पुरस्कार 2022 के लिए भारतीय राज्य झारखंड को चुना गया

पुरस्कार और खेल

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने विश्व तंबाकू निषेध दिवस (WNTD) पुरस्कार-2022 के लिए भारतीय राज्य झारखंड को चुना।

राज्य को तंबाकू की खपत को नियंत्रित करने के प्रयासों की सराहना करने के लिए चुना गया और इसे विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। यह पुरस्कार स्वास्थ्य विभाग के राज्य तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ द्वारा प्राप्त किया जाएगा। झारखंड में तंबाकू को नियंत्रित करने का कारण तंबाकू छोड़ने का प्रयास कर रहे लोगों के लिए सफल अभियान और पहुंच योग्य हेल्पलाइन प्रणाली है।

राज्य के लिए यह पुरस्कार कार्यक्रम को लागू करने में तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ को मिले राजनीतिक और प्रशासनिक सहयोग के कारण ही संभव हो सका।

राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम (एनटीसीपी) 2012 में झारखंड में तंबाकू सेवन के स्वास्थ्य प्रभावों के बारे में लोगों को शिक्षित करने के लिए शुरू किया गया था।

ग्लोबल एडल्ट टोबैको सर्वे (GATS)-1 की रिपोर्ट के अनुसार, राज्य में तम्बाकू प्रसार दर 51.1% थी, जिसमें से 48% धूम्रपान न करने वाले उपयोगकर्ता शमिल थे। ग्लोबल एडल्ट टोबैको सर्वे (GATS-2) रिपोर्ट-2018 के अनुसार, झारखंड में तंबाकू का सेवन करने वालों की संख्या घटकर 38.9% हो गई, जिसमें से 35.4% धूम्रपान न करने वाले उपयोगकर्ता थे।

तम्बाकू का सेवन पुरुषों के लिए मृत्यु का प्रमुख कारण है और दूसरा प्रमुख कारण है जब पुरुष और महिला दोनों शामिल हैं। फेफड़ों के कैंसर से पीड़ित लगभग 80% से 90% लोग तम्बाकू धूम्रपान करने वाले लोग रहे है।

 

   परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण बिंदु:

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा विश्व तंबाकू निषेध दिवस (WNTD) पुरस्कार-2022 के लिए भारतीय राज्य झारखंड को चुना गया था।
  • राज्य को तंबाकू की खपत को नियंत्रित करने के प्रयासों को मान्यता देने के लिए चुना गया था और विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर पुरस्कार प्राप्त करेगा।
  • यह पुरस्कार स्वास्थ्य विभाग के राज्य तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ द्वारा प्राप्त किया जाएगा।
  • राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम (एनटीसीपी) 2012 में झारखंड में तंबाकू सेवन के स्वास्थ्य प्रभावों के बारे में लोगों को शिक्षित करने के लिए शुरू किया गया था।
  • ग्लोबल एडल्ट टोबैको सर्वे (GATS-2) रिपोर्ट-2018 के अनुसार, झारखंड में तंबाकू का सेवन करने वालों की संख्या घटकर 38.9% हो गई, जिसमें से 35.4% धूम्रपान न करनेवाले उपयोगकर्ता थे।

   जानने के लिए तथ्य:

  • झारखंड की राजधानी: रांची।
  • झारखंड के मुख्यमंत्री: श्री हेमंत सोरेन।
  • झारखंड के राज्यपाल: श्री रमेश बैस।
  • झारखंड की साक्षरता दर: 67.6%।
preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses