बिहार ने 'देश के सबसे बड़े' गोल्ड रिजर्व’ की खोज की अनुमति देने का फैसला किया

राष्ट्रीय

बिहार सरकार ने जमुई जिले में "देश के सबसे बड़े" स्वर्ण भंडार की खोज के लिए अनुमति देने का निर्णय लिया है। भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण (जीएसआई) के सर्वेक्षण के अनुसार, जमुई जिले में 37.6 टन खनिज युक्त अयस्क सहित लगभग 222.88 मिलियन टन सोने का भंडार मौजूद है।

  जीएसआई के निष्कर्षों का विश्लेषण करने के बाद परामर्श प्रक्रिया शुरू हुई, जिसमें जमुई जिले में करमाटिया, झाझा और सोनो जैसे क्षेत्रों में सोने की उपस्थिति का संकेत दिया गया था।

  केंद्रीय खान मंत्री प्रह्लाद जोशी ने पिछले साल लोकसभा को बताया था कि भारत के सोने के भंडार में से सबसे ज्यादा हिस्सा बिहार का है। बिहार में 222.885 मिलियन टन सोना धातु है, जो देश के कुल सोने के भंडार का 44% है।

 

परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण बिंदु:

  • बिहार सरकार ने जमुई जिले में "देश के सबसे बड़े" स्वर्ण भंडार की खोज के लिए अनुमति देने का निर्णय लिया है।
  •  भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण (जीएसआई) के सर्वेक्षण के अनुसार, जमुई जिले में 37.6 टन खनिज युक्त अयस्क सहित लगभग 222.88 मिलियन टन सोने का भंडार मौजूद है।
  • केंद्रीय खान मंत्री प्रह्लाद जोशी ने पिछले साल लोकसभा को बताया था कि भारत के सोने के भंडार में से सबसे ज्यादा हिस्सा बिहार का है।
  • बिहार में 222.885 मिलियन टन सोना है, जो देश के कुल सोने के भंडार का 44% है।

Related Current Affairs

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses