संयुक्त अरब अमीरात मंकीपॉक्स का मामला दर्ज करने वाला पहला खाड़ी राज्य बना

अंतरराष्ट्रीय

मंकीपॉक्स का मामला दर्ज करने वाला पहला खाड़ी देश संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) है। संयुक्त अरब अमीरात इजराइल के बाद मंकीपॉक्स वायरस का पता लगाने वाला दूसरा मध्य पूर्वी देश भी है।

हाल ही में, चेक गणराज्य और स्लोवेनिया ने भी मंकीपॉक्स वायरस के अपने पहले मामले दर्ज किए। यूरोप, ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका जैसे अन्य महाद्वीपों में वायरस का प्रकोप पाया गया है। इन देशों के अलावा, 18 अन्य देशों ने अपने सामान्य अफ्रीकी बेस के बाहर वायरस का पता लगाया।

मामलों की संख्या बढ़ रही है लेकिन सामान्य लोगों के लिए समग्र जोखिम कम है। लक्षणों में अक्सर बुखार और दाने शामिल होते हैं - लेकिन संक्रमण आमतौर पर हल्का होता है। वायरस संक्रमित व्यक्ति से त्वचा के घावों या शारीरिक तरल पदार्थ की बूंदों के संपर्क के माध्यम से प्रेषित किया जा सकता है।

विभिन्न देशों के अधिकारी किसी भी प्रकोप से निपटने के लिए "पूरी तरह से तैयार" हैं, यह कहते हुए कि बीमारी का पता लगाने के लिए शुरुआती निगरानी प्रोटोकॉल लागू थे।

मंकीपॉक्स वायरस (एमपीवी या एमपीएक्सवी) एक डबल-स्ट्रैंडेड डीएनए जूनोटिक वायरस है जो मनुष्यों और अन्य जानवरों में मंकीपॉक्स का कारण बनता है। यह परिवार पॉक्सविरिडे में जीनस ऑर्थोपॉक्सवायरस से संबंधित है। इसकी पहचान सबसे पहले श्री प्रेबेन वॉन मैग्नस ने कोपेनहेगन, डेनमार्क में 1958 में केकड़े खाने वाले मकाक बंदरों (Macaca fascicularis) में प्रयोगशाला जानवरों के रूप में इस्तेमाल किए जाने में की थी।

 

   परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण बिंदु:

  • मंकीपॉक्स का मामला दर्ज करने वाला पहला खाड़ी देश संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) है।
  • संयुक्त अरब अमीरात इजराइल के बाद मंकीपॉक्स वायरस का पता लगाने वाला दूसरा मध्य पूर्वी देश भी है।
  • हाल ही में, चेक गणराज्य और स्लोवेनिया ने भी मंकीपॉक्स वायरस के अपने पहले मामले दर्ज किए।
  • मामलों की संख्या बढ़ रही है लेकिन सामान्य आबादी के लिए समग्र जोखिम कम है। लक्षणों में अक्सर बुखार और दाने शामिल होते हैं - लेकिन संक्रमण आमतौर पर हल्का होता है।

   जानने के लिए तथ्य:

  • यूएई की राजधानी: अबू धाबी।
  • संयुक्त अरब अमीरात की मुद्रा: संयुक्त अरब अमीरात दिरहम।
  • यूएई के प्रधान मंत्री: मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम।
  • संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति: मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान।

Related Current Affairs

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses