नॉर्डिक देशों फिनलैंड और स्वीडन ने संयुक्त रूप से नाटो में प्रवेश के लिए आवेदन प्रस्तुत किया

अंतरराष्ट्रीय

स्वीडन और फ़िनलैंड, नॉर्डिक देशों ने संयुक्त रूप से उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) में शामिल होने के लिए अपने आवेदन प्रस्तुत किए। दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों ने अपनी नाटो बोलियों को एक साथ प्रस्तुत करने के अपने निर्णय की घोषणा की।

फिनलैंड में संसद को नाटो सदस्यता के लिए देश की बोली को मंजूरी देने के लिए 200 में से 188 वोट मिले। राष्ट्रपति के पास उनकी सहमति के लिए आवेदन भेजा गया था। आवेदन पर हस्ताक्षर करने के बाद इसे नाटो मुख्यालय को सौंपा जाएगा।

संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति फिनलैंड के नेताओं, स्वीडन के नाटो अनुप्रयोगों और यूरोपीय सुरक्षा के साथ-साथ वैश्विक मुद्दों और यूक्रेन के लिए समर्थन की एक श्रृंखला में हमारी करीबी साझेदारी को मजबूत करने के साथ चर्चा करेंगे।

रूस की चेतावनी के बावजूद आवेदन प्रक्रिया के दौरान जर्मनी इन दोनों देशों स्वीडन और फिनलैंड के साथ अपना सैन्य सहयोग बढ़ाएगा।

उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) का गठन 4 अप्रैल, 1949 को उत्तरी अटलांटिक संधि पर हस्ताक्षर करके किया गया था। यह 30 सदस्य राज्यों - 28 यूरोपीय राज्यों, संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा के बीच एक अंतर-सरकारी सैन्य गठबंधन है। इसका मूल लक्ष्य राजनीतिक और सैन्य साधनों द्वारा मित्र राष्ट्रों की स्वतंत्रता और सुरक्षा की रक्षा करना है। इसे 'उत्तर अटलांटिक गठबंधन' भी कहा जाता है।

 

   परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण बिंदु:

  • नॉर्डिक देशों - स्वीडन और फ़िनलैंड - ने संयुक्त रूप से उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) में शामिल होने के लिए अपने आवेदन प्रस्तुत किए।
  • फिनलैंड में संसद को नाटो सदस्यता के लिए देश की बोली को मंजूरी देने के लिए 200 में से 188 वोट मिले। राष्ट्रपति के पास उनकी सहमति के लिए आवेदन भेजा गया था। आवेदन पर हस्ताक्षर करने के बाद इसे नाटो मुख्यालय को सौंपा जाएगा।
  • संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति फिनलैंड के नेताओं, स्वीडन के नाटो अनुप्रयोगों और यूरोपीय सुरक्षा के साथ-साथ वैश्विक मुद्दों और यूक्रेन के लिए समर्थन की एक श्रृंखला में हमारी करीबी साझेदारी को मजबूत करने के साथ चर्चा करेंगे।
  • रूस की चेतावनी के बावजूद आवेदन प्रक्रिया के दौरान जर्मनी इन दोनों देशों स्वीडन और फिनलैंड के साथ अपना सैन्य सहयोग बढ़ाएगा।

   जानने के लिए तथ्य:

  • स्वीडन की राजधानी: स्टॉकहोम।
  • स्वीडन के प्रधान मंत्री: श्री मैग्डेलेना एंडरसन।
  • फिनलैंड की राजधानी: हेलसिंकी।
  • फ़िनलैंड की प्रधान मंत्री: सुश्री सना मारिन।

Related Current Affairs

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses