मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुरू की संबल योजना 2

राष्ट्रीय

संबल योजना के तहत कम आय वाले परिवारों की मदद के लिए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा 'संबल योजना 2.0' के लिए एक नया पोर्टल लॉन्च किया गया।

इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से सरकार 25 हजार 982 मजदूर परिवारों को 551 करोड़ 16 लाख रुपये और संबल योजना के तहत निर्माण श्रमिकों के 1036 परिवारों को 22 करोड़ 23 लाख रुपये की अनुग्रह राशि एक क्लिक में वितरित करेगी।

संबल 2.0 योजना योजना के तहत अधिक लाभार्थियों को लाभान्वित करने के लिए शुरू की जा रही संबल योजना का एक अद्यतन संस्करण है। एमपी ऑनलाइन या सार्वजनिक सेवा केंद्रों से आवेदन करने और एसएमएस या व्हाट्सएप के माध्यम से कार्यकर्ता के मोबाइल पर आवेदन की जानकारी देने के प्रावधान के साथ नई योजना को नया रूप दिया गया था। इस योजना में पूर्व में अपात्र घोषित किए गए श्रमिक भी नये सिरे से आवेदन कर सकेंगे।

इस योजना के तहत राज्य के तेंदूपत्ता तोड़ने वालों को भी असंगठित श्रमिकों की श्रेणी में शामिल किया जाएगा।

महिला मजदूरों को प्रसूति सहायता के रूप में 16 हजार रुपये दिए जाएंगे, जबकि इन मजदूरों के बच्चों को मुफ्त शिक्षा भी प्रदान की जा रही है।

असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों को वित्तीय सहायता निम्नलिखित है;

  • दुर्घटना में मृत्यु - 4 लाख रुपये।
  • सामान्य मृत्यु - 2 लाख रुपये।
  • स्थायी विकलांगता - 2 लाख रुपये।
  • आंशिक स्थायी विकलांगता - 1 लाख रुपये।
  • अंतिम संस्कार सहायता - 5000 लाख रुपये।.

अनुग्रह सहायता योजना राज्य में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लाखों श्रमिकों के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है, जिसमें श्रमिक को जन्म से लेकर मृत्यु तक आर्थिक सहायता मिलती है।

 

   परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण बिंदु:

  • मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा संबल योजना के तहत कम आय वाले परिवारों की मदद के लिए एक नया पोर्टल 'संबल योजना 2.0' लॉन्च किया गया।
  • सरकार असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को संबल योजना के तहत एक क्लिक से अनुग्रह राशि वितरित करेगी।
  • राज्य सरकार 25 हजार 982 मजदूर परिवारों को 551 करोड़ 16 लाख रुपये और निर्माण श्रमिकों के 1036 परिवारों को 22 करोड़ 23 लाख रुपये की अनुग्रह सहायता वितरित करेगी।
  • संबल 2.0 योजना संबल योजना का एक नया संस्करण है जिसमें ऑनलाइन आवेदन करने का प्रावधान है। योजना के पिछले संस्करण में घोषित अपात्र श्रमिक भी नए सिरे से आवेदन कर सकेंगे।
  • राज्य में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लाखों श्रमिकों के लिए 'संबल' एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है, जिसमें श्रमिक को जन्म से लेकर मृत्यु तक आर्थिक सहायता मिलती है।

   जानने के लिए तथ्य:

  • मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री: श्री शिवराज सिंह चौहान।
  • मध्य प्रदेश के राज्यपाल: श्री मंगूभाई सी. पटेल।
  • कान्हा राष्ट्रीय उद्यान मध्य प्रदेश में स्थित है, जो रॉयल बंगाल टाइगर्स का घर है।

Related Current Affairs

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses