देवसाहयम पिल्लै पोप फ्रांसिस द्वारा संत घोषित किए जाने वाले पहले आम आदमी बने

राष्ट्रीय

18वीं शताब्दी में ईसाई धर्म में परिवर्तित होने वाले देवसहायम पिल्लई को 'लाजर' नाम दिया गया, वे वेटिकन में पोप द्वारा संत घोषित किए जाने वाले पहले भारतीय आम आदमी बने। अन्य नौ नए संतों यानि 5 पुरुषों और 4 महिलाओं को विहित समारोह में संत के रूप में घोषित किया गया। दो साल में वेटिकन में यह पहला समारोह था।

संत पीटर्स बेसिलिका में संत पापा फ्राँसिस ने धन्य देवसहायम को संत घोषित किया।

इस कार्यक्रम में दुनिया भर से 50,000 से अधिक श्रद्धालुओं ने भाग लिया, साथ ही नए संतों को सम्मानित करने वाले सरकारी प्रतिनिधिमंडल भी शामिल हुए। 2014 में पोप फ्रांसिस द्वारा देवसहायम के एक चमत्कार को मान्यता दी गई थी, जिससे 2022 में उनके विमुद्रीकरण का रास्ता साफ हो गया।

पांच अन्य पुरुष संत थे टाइटस ब्रैंड्स्मा, सीजर डी बस, लुइगी मारिया पलाज़ोलो, गिउस्टिनो मारिया रसोलिलो, और चार्ल्स डी फौकॉल्ड - और चार महिला संत मारिया रिवियर, जीसस रूबाटो की मारिया फ्रांसेस्का, जीसस सैंटोकैनेल की मारिया और मारिया डोमिनिका मंटोवानी थीं।

देवसहयम का जन्म अप्रैल, 1712 में कन्याकुमारी जिले के नट्टलम गाँव में हुआ था, और त्रावणकोर के मार्तंडा वर्मा के दरबार में सेवा करने के लिए चले गए।

उन्होंने 1745 में बपतिस्मा लिया था, और उन्होंने 'लाजर' नाम ग्रहण किया, जिसका अर्थ है 'भगवान मेरी मदद है'। अगले सात वर्षों में यानि 1752 में अरलवाइमोझी जंगल में उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई।

उन्हें 2012 में कोट्टार सूबा द्वारा तमिलनाडु बिशप परिषद के साथ कोट्टार के सूबा की सिफारिश के अनुसार धन्य घोषित किया गया था।

 

   परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण बिंदु:

  • देवसहायम पिल्लई को 'लाजर' नाम दिया गया, वे वेटिकन द्वारा संत घोषित होने वाले पहले भारतीय आम आदमी बने।
  • समारोह में नौ अन्य - 5 पुरुषों और 4 महिलाओं को संत की उपाधि दी गई।
  • 2014 में पोप फ्रांसिस द्वारा देवसहायम के लिए जिम्मेदार एक चमत्कार को मान्यता दी गई थी, जिससे 2022 में उनके विमुद्रीकरण का रास्ता साफ हो गया।
  • देवसहयम का जन्म अप्रैल, 1712 में कन्याकुमारी जिले के नट्टलम गाँव में हुआ था, और त्रावणकोर के मार्तंडा वर्मा के दरबार में सेवा करने के लिए चले गए।
  • उन्होंने 1745 में बपतिस्मा लिया था, और उन्होंने 'लाजर' नाम ग्रहण किया, जिसका अर्थ है 'भगवान मेरी मदद है'।

   जानने के लिए तथ्य:

  • वेटिकन सिटी दुनिया का सबसे छोटा पूर्ण स्वतंत्र राष्ट्र-राज्य है।
  • वेटिकन सिटी की राजधानी: वेटिकन सिटी
  • इटली की राजधानी: रोम।
  • इटली की मुद्रा: यूरो।

Related Current Affairs

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses