राजगिरि में मिली 5000 साल पुरानी ज्वैलरी बनाने की फैक्ट्री

राष्ट्रीय

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने 5000 साल पुरानी आभूषण बनाने वाली फैक्ट्री की खोज की है, जिस दौरान उन्हें एक हार मिला है। यह अब तक की सबसे बड़ी खोजों में से एक खोज साबित हुई है। इसकी खोज हरियाणा के हिसार जिले के राखीगढ़ी में हुई। 5000 साल पुराने हार को राष्ट्रीय संग्रहालय में प्रदर्शित किया जाएगा।

उन्हें हजारों वर्षों से जमीन में गड़े हुए तांबे और सोने के आभूषण भी मिले है। राखी गढ़ी सिंधु घाटी सभ्यता (IVC) से संबंधित सबसे पुराने पुरातात्विक स्थलों में से एक है।एएसआई पिछले 32 वर्षों से राखी गढ़ी में कार्यरत है।

इस स्थल पर ज्वैलरी बनाने की फैक्ट्री के अलावा, हजारों मिट्टी के बर्तन, शाही मुहरें और बच्चों के खिलौने भी खोदे गए हैं। पिछले दो महीनों में, एएसआई ने इस साइट पर यहां बहुत सारी खोजें की हैं, जो सभ्यता के विकास की ओर तेजी से आगे बढ़ने की ओर संकेत करती हैं।

एएसआई की खोज में कुछ घरों की संरचना, एक किचन कॉम्प्लेक्स और 5000 साल पुरानी ज्वैलरी बनाने की फैक्ट्री मिली। इन खोजों के साथ, उन्होंने निष्कर्ष निकाला कि यह स्थल प्राचीन काल में एक बहुत ही महत्वपूर्ण व्यापार केंद्र होना चाहिए।

इससे पहले वर्ष 2018 में  उत्तर प्रदेश के सिनौली में कांस्य युग के रथ एवं पहिये की खोज की गई थी।

 

   परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण बिंदु:

  • हरियाणा के हिसार जिले के राखीगढ़ी में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) द्वारा 5000 वर्ष पुरानी हार और आभूषण बनाने की फैक्ट्री की खोज की गई।
  • 5000 वर्ष पुराने हार को राष्ट्रीय संग्रहालय में प्रदर्शित किया जाएगा जो सिंधु घाटी सभ्यता के बेहतरीन सौंदर्यशास्त्र को प्रदर्शित करता है।
  • एएसआई की खोज में कुछ घरों की संरचना, एक किचन कॉम्प्लेक्स और 5000 वर्ष पुरानी ज्वैलरी बनाने की फैक्ट्री मिली।
  • इन खोजों के साथ, उन्होंने निष्कर्ष निकाला कि यह स्थल प्राचीन काल में एक बहुत ही महत्वपूर्ण व्यापार केंद्र होना चाहिए।
  • इससे पहले वर्ष 2018 में उत्तर प्रदेश के सिनौली में कांस्य युग के रथ एवं पहिये की खोज की गई थी।

   जानने के लिए तथ्य:

  • भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) की स्थापना 1861 में अलेक्जेंडर कनिंघम ने की थी।
  • एएसआई के महानिदेशक: सुश्री वी विद्यावती, आईएएस।
  • एएसआई संस्कृति मंत्रालय के अधीन कार्य कर रहा है।
  • केंद्रीय संस्कृति मंत्री: श्री जी किशन रेड्डी।

Related Current Affairs

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses