अदानी विल्मर लिमिटेड ने मैककॉर्मिक स्विट्जरलैंड जीएमबीएच से कोहिनूर ब्रांड का अधिग्रहण किया

बैंकिंग और अर्थव्यवस्था

अदानी विल्मर लिमिटेड (AWL) ने मैककॉर्मिक स्विट्जरलैंड GMBH से बासमती चावल ब्रांड कोहिनूर के भारत पोर्टफोलियो का अधिग्रहण किया है, जो पैकेज्ड फूड बिजनेस में अपनी स्थिति को मजबूत करता है। ब्रांड पोर्टफोलियो में प्रीमियम बासमती चावल के लिए "कोहिनूर", किफायती चावल के लिए "चारमीनार", और होटल, रेस्तरां और खानपान (HORECA) खंड के लिए "ट्रॉफी" शामिल हैं। सौदे का खुलासा नहीं किया गया था।

ब्रांडेड स्टेपल सेगमेंट में अपनी उपस्थिति बढ़ाने पर कंपनी का ध्यान पैकेज्ड फूड स्पेस में अधिक अधिग्रहण के लिए खुला है। इस अधिग्रहण से कंपनी को भारत में 'अम्ब्रेला' ब्रांड के तहत 'रेडी टू कुक', 'रेडी टू ईट' करी और फूड पोर्टफोलियो के साथ 'कोहिनूर के बासमती चावल' पर विशेष अधिकार मिल जाएगा।

इस अधिग्रहण के बाद एडब्ल्यूएल (AWL) बासमती चावल में 12% बाजार हिस्सेदारी के साथ अपनी स्थिति मजबूत करेगी। अधिग्रहण कंपनी के खाद्य व्यवसाय (अखाद्य तेल पोर्टफोलियो) पर आधारित था, जो पिछले वर्ष की तुलना में 34% (वित्त वर्ष 21-22 में) बढ़ा है और इस प्रकार की वृद्धि को जारी रखने के लिए है। और यह ब्रांड इस रणनीति में अच्छी तरह फिट बैठता है, क्योंकि यह एक बहुमुखी ब्रांड है। कंपनी के पास इस ब्रांड को गैर-बासमती प्रीमियम मूल्य खंड में भी विस्तारित करने का विकल्प है।

ब्रांड केवल 30,000 आउटलेट्स में बेचा जा रहा था, लेकिन हमारे पास 1,00,000 से अधिक आउटलेट्स का व्यापक वितरण कवरेज है। अडानी विल्मर के लिए, लगभग 35% खाद्य तेल व्यवसाय और लगभग 40% ब्रांडेड स्टेपल व्यवसाय ग्रामीण बाजारों से आता है।

 

   परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण बिंदु:

  • अदानी विल्मर लिमिटेड (AWL) ने मैककॉर्मिक स्विट्जरलैंड GMBH से बासमती चावल ब्रांड कोहिनूर के भारत पोर्टफोलियो का अधिग्रहण किया है।
  • इस अधिग्रहण के बाद AWL बासमती चावल में 12% बाजार हिस्सेदारी के साथ अपनी स्थिति मजबूत करेगी।
  • इस अधिग्रहण से कंपनी को भारत में 'अम्ब्रेला' ब्रांड के तहत 'रेडी टू कुक', 'रेडी टू ईट' करी और फूड पोर्टफोलियो के साथ 'कोहिनूर के बासमती चावल' पर विशेष अधिकार मिल जाएगा।
  • अधिग्रहण कंपनी के खाद्य व्यवसाय (अखाद्य तेल पोर्टफोलियो) पर आधारित था, जो पिछले वर्ष की तुलना में 34% (वित्त वर्ष 21-22 में) बढ़ा है।
  • कंपनी के पास इस ब्रांड को गैर-बासमती प्रीमियम मूल्य खंड में भी विस्तारित करने का विकल्प है।

   जानने के लिए तथ्य:

  • अदानी विल्मर लिमिटेड (AWL) की स्थापना 1999 में हुई थी।
  • एडब्ल्यूएल (AWL) के सीईओ और एमडी: मि. अंशु मलिक।
  • एडब्ल्यूएल (AWL) एक फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स (FMCG) कंपनी है। एफएमसीजी ऐसे उत्पाद हैं जो जल्दी और अपेक्षाकृत कम कीमत पर बेचे जाते हैं- जैसे अंडा, दूध, गोंद, फल, सब्जियां आदि।

Related Current Affairs

13/06/2022

भारतीय रिजर्व बैंक ने 'मुधोल कूप बैंक' का लाइसेंस रद्द किया**

लाइसेंस रद्द होने के साथ, बैंक बैंकिंग कार्य नहीं कर सकता है अर्थात जमा की स्वीकृति और पुनर्भुगतान।

बैंकिंग और अर्थव्यवस्था

13/06/2022

निर्मला सीतारमण ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के लिए 5.0 'आम सुधार एजेंडा' का शुभारंभ किया

MDs, मुख्य कार्यकारी अधिकारियों & सार्वजनिक बैंकों के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने वर्चुअल रूप से इस कार्यक्रम में भाग लिया

बैंकिंग और अर्थव्यवस्था

13/06/2022

ब्यूटी रिटेलर पर्पल 33 मिलियन डॉलर के साथ भारत का 102वां यूनिकॉर्न बना**

एड-टेक स्टार्ट-अप फिजिक्सवाला के बाद, जून 2022 के महीने में यूनिकॉर्न टैग हासिल करने वाली यह दूसरी फर्म है।

बैंकिंग और अर्थव्यवस्था

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses