अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस

महत्वपूर्ण दिन, पुस्तकें और लेखक

प्रत्येक वर्ष 1 मई को अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस मनाया जाता है जिसे मई दिवस के रूप में भी जाना जाता है। यह श्रमिकों के अधिकारों के बारे में जागरूकता पैदा करने और उनके द्वारा दैनिक आधार पर की जाने वाली कड़ी मेहनत को स्वीकार करने के लिए एक वार्षिक अवकाश है।

यह भारत में प्रमुखतः वर्ष 1923 में लेबर किसान पार्टी ऑफ हिंदुस्तान द्वारा देश में पहली बार समारोह आयोजित करने के बाद मनाए जाने लगा। वर्ष 1923 में, भारत में मद्रास प्रांत ने अपना पहला मजदूर दिवस मनाया था।

पूरे भारत में, यह दिवस हिंदी में 'कामगार दिन' या 'अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस', तमिल में 'उझोपलार नाल' और मराठी में 'कामगार दिवस' सहित कई शीर्षकों के तहत मनाया जाता है।

मजदूर दिवस मजदूरों के अधिकारों के उल्लंघन के खिलाफ पिछले मजदूरों के संघर्षों की याद दिलाता है, जिसमें लंबे कार्यदिवस और सप्ताह, प्रतिकूल स्थिति और बाल मजदूरी भी शामिल हैं। स्वीडन, फ्रांस, पोलैंड, फिनलैंड, नॉर्वे, स्पेन, जर्मनी, इटली, भारत, चीन और क्यूबा सहित कई देशों में मजदूर दिवस मनाया जाता है।

अमेरिका में शिकागो में 1886 के हेमार्केट मामले को मनाने के लिए तारीख को अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस के रूप में चुना गया था, जिसमें मजदूरों के समर्थन में एक शांतिपूर्ण रैली में पुलिस के साथ हिंसक झड़प हुई, जिसमें कम से कम 38 नागरिक और 7 पुलिस अधिकारीयों की मृत्यु हुई थी।

 

   परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण बिंदु:

  • विश्व स्तर पर, अंतर्राष्ट्रीय श्रम दिवस हर साल 1 मई को मनाया जाता है।
  • यह श्रमिकों के अधिकारों के बारे में जागरूकता पैदा करने और उनके द्वारा दैनिक आधार पर की जाने वाली कड़ी मेहनत को स्वीकार करने के लिए एक वार्षिक अवकाश है।
  • 1923 में लेबर किसान पार्टी ऑफ हिंदुस्तान द्वारा देश में पहली बार समारोह आयोजित करने के बाद यह भारत में प्रमुखता से आया।
  • अमेरिका में शिकागो में 1886 के हेमार्केट मामले को मनाने के लिए तारीख को अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस के रूप में चुना गया था, जिसमें श्रमिकों के समर्थन में एक शांतिपूर्ण रैली में पुलिस के साथ हिंसक झड़प हुई, जिसमें कम से कम 38 नागरिकों की मौत हो गई और 7 पुलिस अधिकारी।

  जानने के लिए तथ्य:

  • अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) की स्थापना वर्ष 1919 में हुई थी।
  • आईएलओ का मुख्यालय: जिनेवा, स्विट्जरलैंड।
  • आईएलओ के महानिदेशक: मिस्टर गाइ राइडर- आईएलओ के 10वें महानिदेशक।
  • वर्ष 1969 में आईएलओ को नोबेल शांति पुरस्कार मिला।
preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses