केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री ने नई दिल्ली में 'आजादी से अंत्योदय तक' अभियान का शुभारंभ किया

राष्ट्रीय

साल भर चलने वाले आजादी का अमृत महोत्सव (AKAM) की भावना का जश्न मनाते हुए, केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री ने हाल ही में नई दिल्ली में 'आजादी से अंत्योदय तक' अभियान शुरू किया है।

यह अभियान कई केंद्रीय मंत्रालयों का एक प्रयास है जिसे केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा संचालित किया जाएगा। मंत्रालयों में महिला और बाल विकास मंत्रालय, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय, श्रम और अधिकारिता मंत्रालय कृषि और किसान कल्याण विभाग शामिल हैं।

यह नौ केंद्रीय मंत्रालयों की लाभार्थी योजनाओं के साथ देश भर के 75 जिलों को संतृप्त करने के मिशन के साथ शुरू किया गया 90-दिवसीय अभियान है।

चिन्हित 75 जिलों को 99 स्वतंत्रता सेनानियों के जन्मस्थान के साथ जोड़ा गया है, जिन्होंने स्वतंत्रता के संघर्ष के दौरान राष्ट्र के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया था। विकास के मानकों में मामूली रूप से पिछड़े 75 जिलों को मासिक प्रति व्यक्ति संकेतक और सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना के आंकड़ों के माध्यम से चुना गया है। इस जिलों की सूची में दक्षिण कन्नड़, पलक्कड़, कोझीकोड, कन्नूर, कांगड़ा, पानीपत, रोहतक, भिवानी, आदि शामिल हैं।

अभियान ने 17 विषयों का चयन किया, जिसमें लाभार्थियों को संतृप्ति मोड में सीधे सहायता दी गई, जिसमें प्रत्येक भाग लेने वाले मंत्रालयों और विभागों द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में हाशिये पर रह रहें व्यक्ति तक पहुंचना शामिल था।

 

   परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण बिंदु:

  • केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री द्वारा नई दिल्ली में 90- दिनों तक चलनेवाले अभियान 'आजादी से अंत्योदय तक' का शुभारंभ किया गया।
  • यह अभियान कई केंद्रीय मंत्रालयों का एक प्रयास है जिसे केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा संचालित किया जाएगा।
  • अभियान देश भर के चयनित 75 जिलों में चयनित 17 विषयों के साथ आयोजित किया जाएगा।
  • चिन्हित किए गए 75 जिलों को 99 स्वतंत्रता सेनानियों के जन्मस्थान के साथ जोड़ा गया है, जिन्होंने स्वतंत्रता के लिए अपने संघर्ष के दौरान राष्ट्र के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया था।

   जानने के लिए तथ्य:

  • केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री: श्री गिरिराज सिंह।
  • केरल का पलक्कड़ कैप्टन लक्ष्मी सहगल का जन्मस्थान है।
  • आजादी का अमृत महोत्सव भारत की आजादी के 75 साल के लिए एक अभियान है।

Related Current Affairs

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses