तेजी से बढ़ रही COVID-19 बीमारी के उच्च जोखिम को ध्यान में रखते हुए WHO ने की फाइजर के 'पैक्सलोविड' टैबलेट की सिफारिश

अंतरराष्ट्रीय

हल्के और मध्यम लक्षणों वाले कोविड -19 रोगियों के इलाज के लिए, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने फाइजर के 'पैक्सलोविड' की जोरदार सिफारिश की है जिसमें 'निर्माट्रेलविर' और 'रटनवीर' शामिल हैं जो फाइजर द्वारा निर्मित हैं।

डब्ल्यूएचओ ने सभी कोविड -19 रोगियों में रोग की गंभीरता को कम महत्व देते हुए एक और एंटीवायरल दवा 'रेमेडिसविर' की भी सिफारिश की है, उस समय के प्रमाणों की सकलता के कारण मृत्यु दर पर बहुत कम या कोई प्रभाव नहीं दिखा।

'पैक्सलोविड' एक ओरल एंटीवायरल दवा है, जो निर्माट्रेलवीर और रटनवीर गोलियों का एक संयोजन है। डब्ल्यूएचओ द्वारा कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए 'पैक्सलोविड' टैबलेट की सिफारिश की गई थी, जो गंभीर बीमारी और अस्पताल में भर्ती होने के उच्चतम जोखिम में है, जैसे कि वैक्सीन न लेनेवाले, वृद्ध, या इम्यूनोसप्रेस्ड रोगी।

डब्ल्यूएचओ ने कम जोखिम वाले रोगियों में इसके उपयोग के खिलाफ सुझाव दिया क्योंकि लाभ नगण्य पाए गए थे।

संगठन ने टैबलेट को "अब तक के उच्च जोखिम वाले रोगियों के लिए सबसे अच्छा चिकित्सीय विकल्प" कहा है।

डब्ल्यूएचओ की सिफारिश 3078 रोगियों को शामिल करने वाले दो यादृच्छिक नियंत्रित परीक्षणों के नए आंकड़ों पर आधारित है। परीक्षण से, यह दिखाया गया कि इस उपचार के बाद अस्पताल में भर्ती होने का जोखिम 85% कम हो जाता है।

   परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण बिंदु:

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने रोग की गंभीरता की परवाह किए बिना हल्के और मध्यम कोविड -19 रोगियों के इलाज के लिए एक मौखिक एंटीवायरल दवा 'पैक्सलोविड' टैबलेट की जोरदार सिफारिश की है।
  • टैबलेट का निर्माण फाइजर ने किया था। दो नैदानिक परीक्षणों के बाद इसकी सिफारिश की गई थी।
  • रोग की गंभीरता की परवाह किए बिना रोगियों के इलाज के लिए टैबलेट की सिफारिश की गई थी, क्योंकि उस समय के साक्ष्यों की समग्रता मृत्यु दर पर बहुत कम या कोई प्रभाव नहीं दिखाती थी।
  • संगठन ने टैबलेट को "अब तक के उच्च जोखिम वाले रोगियों के लिए सबसे अच्छा चिकित्सीय विकल्प" कहा है।

   जानने के लिए तथ्य:

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की स्थापना 1948 में हुई थी।
  • WHO का मुख्यालय: जिनेवा, स्विट्जरलैंड।
  • WHO के महानिदेशक: श्री टेड्रोस एडनॉम - हाल ही में भारत आए।

Related Current Affairs

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses