जलियांवाला बाग हत्याकांड

महत्वपूर्ण दिन, पुस्तकें और लेखक

  • ऐतिहासिक जलियांवाला बाग हत्याकांड को 103 साल पुरे होनेपर याद किया गया।
  • यह घटना 13 अप्रैल 1919 को पंजाब के अमृतसर के जलियांवाला बाग में हुई थी।
  • यह भारतीय स्वतंत्रता समर्थक नेताओं डॉ सैफुद्दीन किचलू और डॉ सत्य पाल की गिरफ्तारी के खिलाफ भारतीयों का विरोध था।
  • विरोध को भंग करने और नागरिकों को उनकी 'अवज्ञा' के लिए दंडित करने के लिए, जनरल डायर के नेतृत्व में ब्रिटिश सैनिकों ने भारत के पंजाब में अमृतसर में निहत्थे भारतीयों की एक बड़ी भीड़ पर गोलीबारी की।
  • जलियांवाला बाग, जो लगभग पूरी तरह से दीवारों से घिरा हुआ था और जिसमें बाहर जाने एवं अंदर आने के लिए केवल एक मार्ग था, में लगभग 400 लोगों की मृत्यु हुई।
  • भारतीयों पर हुए इस हमले के कारण रवींद्रनाथ टैगोर ने प्राप्त नाइटहुड का त्याग कर दिया।
Jallianwala Bagh Massacre
preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses