वित्तीय वर्ष 2020 -21 में बैंक धोखाधड़ी

बैंकिंग और अर्थव्यवस्था

  • वित्त वर्ष 2020 -21 के पहले नौ महीनों में 27 अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों और वित्तीय संस्थानों द्वारा कुल 34,097 करोड़ रुपये की बैंक धोखाधड़ी हुई है।
  • पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) 10 धोखाधड़ी के मामलों के 4,820 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के साथ शीर्ष स्थान पर है।
  • पीएनबी के बाद बैंक ऑफ इंडिया (3925 करोड़ रुपये), स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (3902 करोड़ रुपये), यस बैंक (3869 करोड़ रुपये) और केनरा बैंक (2658 करोड़ रुपये) का स्थान है।
  • पिछले 7 साल (2015 -21) में देशभर में 2.5 लाख करोड़ रुपए के बैंकिंग फ्रॉड का पता चला।
  • इस मामले में बैंकिंग धोखाधड़ी के मामले में महाराष्ट्र सबसे ऊपर है। इसके बाद दिल्ली, तेलंगाना, गुजरात और तमिलनाडु का स्थान है। कुल धोखाधड़ी के 83 प्रतिशत मामले इन 5 राज्यों में दर्ज हुए है।

     जानने के लिए तथ्य:

  • पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के सीईओ: श्री अतुल कुमार गोयल।
  • पीएनबी का मुख्यालय: नई दिल्ली
  • बैंक ऑफ इंडिया (बीओआई) की स्थापना 1906 में हुई थी और 1969 में इसका राष्ट्रीयकरण किया गया था।
  • बीओआई का मुख्यालय: मुंबई।
Bank Frauds

Related Current Affairs

13/06/2022

भारतीय रिजर्व बैंक ने 'मुधोल कूप बैंक' का लाइसेंस रद्द किया**

लाइसेंस रद्द होने के साथ, बैंक बैंकिंग कार्य नहीं कर सकता है अर्थात जमा की स्वीकृति और पुनर्भुगतान।

बैंकिंग और अर्थव्यवस्था

13/06/2022

निर्मला सीतारमण ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के लिए 5.0 'आम सुधार एजेंडा' का शुभारंभ किया

MDs, मुख्य कार्यकारी अधिकारियों & सार्वजनिक बैंकों के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने वर्चुअल रूप से इस कार्यक्रम में भाग लिया

बैंकिंग और अर्थव्यवस्था

13/06/2022

ब्यूटी रिटेलर पर्पल 33 मिलियन डॉलर के साथ भारत का 102वां यूनिकॉर्न बना**

एड-टेक स्टार्ट-अप फिजिक्सवाला के बाद, जून 2022 के महीने में यूनिकॉर्न टैग हासिल करने वाली यह दूसरी फर्म है।

बैंकिंग और अर्थव्यवस्था

preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses