ओडिशा के प्रसिद्ध संस्कृति विशेषज्ञ डॉ रजत कुमार कर का निधन

व्यक्ति एवं स्थान खबरों में

ओडिशा के प्रसिद्ध संस्कृति विशेषज्ञ और प्रसिद्ध साहित्यकार डॉ रजत कुमार कर का 88 वर्ष की आयु में भुवनेश्वर के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया। राज्य के मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि कर का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा।

वह 2021 में साहित्य और शिक्षा श्रेणी में चौथा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म श्री था। उन्होंने ओडिशा के पाला की मरणासन्न कला के पुनरुद्धार में बहुत योगदान दिया है।

पद्म श्री प्राप्तकर्ता का जन्म 2 अक्टूबर, 1934 को ओडिशा के कटक जिले के महंगा में हुआ था।

साहित्यकार उपेंद्र भांजा साहित्य पर एक विपुल लेखक थे और उन्होंने भगवान जगन्नाथ पर आधारित 6 से अधिक गैर-काल्पनिक पुस्तकें और कई पुस्तकें लिखी हैं।

जगन्नाथ संस्कृति पर एक वक्ता छह दशकों तक टीवी और रेडियो पर वार्षिक रथ यात्रा के दौरान अपनी टिप्पणी के लिए भी जाने जाते थे।

भगवान जगन्नाथ का अर्थ है 'ब्रह्मांड का भगवान', भारत और बांग्लादेश में क्षेत्रीय हिंदू परंपराओं में उनके भाई बलभद्र और बहन देवी सुभद्रा के साथ एक त्रय के हिस्से के रूप में पूजा की जाती है।

 

   परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण बिंदु:

  • डॉ रजत कुमार कर ओडिशा के प्रसिद्ध संस्कृति विशेषज्ञ थे, जिनका भुवनेश्वर के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया।
  • उनका जन्म 2 अक्टूबर 1934 को ओडिशा के कटक जिले के महंगा में हुआ था।
  • साहित्यकार उपेंद्र भांजा साहित्य पर एक विपुल लेखक थे और उन्होंने भगवान जगन्नाथ पर आधारित 6 से अधिक गैर-काल्पनिक पुस्तकें और कई पुस्तकें लिखी हैं।
  • उन्होंने ओडिशा के पाला की लुप्त होती कला के पुनरुद्धार में बहुत योगदान दिया है।
  • जगन्नाथ संस्कृति पर एक वक्ता छह दशकों तक टीवी और रेडियो पर वार्षिक रथ यात्रा के दौरान अपनी टिप्पणी के लिए भी जाने जाते थे।

   जानने के लिए तथ्य:

  • ओडिशा के राज्यपाल: श्री गणेश लाल।
  • ओडिशा के मुख्यमंत्री: श्री नवीन पटनायक।
  • ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर को 'मंदिर शहर' के नाम से जाना जाता है।
  • 96वें संशोधन अधिनियम, 2011 के माध्यम से उड़ीसा राज्य का नाम बदलकर 'ओडिशा' कर दिया गया।

Never search for

exam resources

Get them delivered to you

Email Subscription
preparing for jeet

क्या आप सरकारी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं?

यह आपकी जीत का रास्ता है

View courses